UPSC Topper 2020 Rank – 2 | Jagrati avasthi UPSC AIR 2 in hindi | यूपीएससी टॉपर जागृति अवस्थी रैंक 2 की पूरी कहानी

अभी हाल ही में UPSC ने साल 2020 के IAS परीक्षा का रिजल्ट (UPSC Result 2020) जारी किया है। प्रतिवर्ष आयोजित की जाने वाली इस प्रतिष्ठित परीक्षा में प्रत्येक वर्ष लाखों अभ्यर्थी IAS बनने के सपने को लेकर इस परीक्षा में बैठते हैं। किंतु मुट्ठी भर विद्यार्थी ही सफल हो पाते हैं। इन्ही विद्यार्थियों में शीर्ष स्थान प्राप्त हुआ है शुभम कुमार (Shubham kumar) और जागृति अवस्थी (Jagrati Awasthi) को। क्या आप जानते हैं कि UPSC TOPPER 2020 RANK 1 और UPSC TOPPER 2020 RANK 2 कौन हैं। अगर आप नहीं जानते तो अंत तक बने रहें। क्योंकि हम यहां जागृति अवस्थी के बारे में बात करेंगे जिन्होंने UPSC 2020 AIR 2 हासिल किया है।

UPSC TOPPER 2020 AIR 2 : Jagrati Awasthi

साल 2020 के आईएएस के रिजल्ट (IAS Result 2020) में दूसरा रैंक प्राप्त करने का गौरव जागृति अवस्थी को मिला है। बता दें कि जागृति अवस्थी (Jagrati Awasthy AIR 2 ) ने इस साल महिलाओं में सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया (Upsc women topper 2020) । 

जागृति भोपाल से Belong करती हैं। उन्होंने UPSC EXAM 2020 में दूसरा स्थान पाकर देशभर की लड़कियों / महिलाओं के लिए आज रोल मॉडल बनी हुई हैं। भारत की हर लड़की अपने आपको उस स्थान पर देखने  पर गौरवान्वित महसूस करेंगी।

UPSC TOPPER 2020 Rank – 1 : Shubham kumar

UPSC टॉपर 2020 रैंक 2 की जागृति अवस्थी के बारे में बात करने के पहले बता दें कि इस परीक्षा में प्रथम स्थान (UPSC AIR-1 2020) शुभम कुमार को प्राप्त हुआ है जो बिहार राज्य के कटिहार जिले के मूल निवासी हैं।

यह इनका दूसरा प्रयास था। इन्हें साल 2019 की upsc की परीक्षा में सफलता भी मिली थी लेकिन उस वर्ष इनका रैंक 290 था।

इन्होंने आईआईटी बॉम्बे से साल 2018 में सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की और 2018 से ही upsc की तैयारी में लग गए। अंततः UPSC EXAM 2020 में इन्हें देश भर में सर्वोच्च स्थान प्राप्त हुआ और इनकी मेहनत आखिरकार रंग लाई।

यू०पी०एस०सी० टॉपर 2020 रैंक 2 : जागृति अवस्थी

UPSC TOPPER 2020 RANK 2 जागृति अवस्थी जी को प्राप्त हुआ है। उन्होंने यह स्थान अपने दूसरे प्रयास में प्राप्त किया है। साल 2019 में अपने प्रथम प्रयास में उन्होंने यह परीक्षा पास नहीं कर पाई थी। उन्होंने अपनी तैयारी के लिए अपनी जॉब छोड़ दी और 1 साल लगातार कड़ी मेहनत से यह सफलता पाई। इसके अलावा GATE 2017 की परीक्षा दी उसमें इन्होंने 51वीं रैंक हासिल की थी।

जागृति के माता पिता और परिवार :

जागृति के पिता प्रोफेसर हैं और उनकी माता भी पहले सरकारी अध्यापक थीं लेकिन उन्होंने जागृति की तैयारी के लिए अपनी जॉब छोड़ दी थी। वर्तमान में वह गृहणी (Home maker) हैं।

उनका 5 साल छोटा भाई MBBS 2nd Year में हैं और मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है। इस प्रकार जागृति अवस्थी एक समृद्ध घर से संबंध रखती हैं।

जागृति अवस्थी ने तैयारी कैसे किया ?

जागृति अवस्थी ने Maulana Azad National Institute of Technology (MANIT) से BE Electricals इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद बीएचईएल भोपाल (BHEL Bhopal) में नौकरी किया था।

2017 में उन्होंने इंजीनियरिंग की उसके बाद BHEL Bhopal में नौकरी करना शुरू किया। जुलाई 2019 में उन्होंने अपनी UPSC की तैयारी के लिए अपनी नौकरी छोड़ दी और एक साल की लगातार कड़ी मेहनत के बाद यह स्थान प्राप्त किया। Topper Jagrati Awasthy ने कहा कि “आज मैं बहुत खुश हूं।” 

निश्चय ही यह पल हर किसी के जीवन का बहुत खुशहाल भरा समय होता है।

● UPSC CSE 2020 AIR 2 Jagrati avasthi Strategy & Booklists in hindi 

● UPSC (IAS) Prelims booklist in hindi 

8 घण्टे पढ़ो मगर प्रतिदिन पढ़ो : UPSC Topper Jagriti avasthi

IAS TOPPER जागृति अवस्थी का कहना है कि भले ही प्रतिदिन8 घण्टे पढ़ो लेकिन प्रतिदिन पढ़ो। उन्होंने इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने खुद भी तैयारी के शुरुआती महीनों में 8 से 10 घंटे की पढ़ाई की। उनका कहना है कि भले ही थोड़ा कम पढ़ो लेकिन रोज पढ़ो।  फिर जैसे ही exam नजदीक आते गए पढ़ाई के घंटे बढ़ते गए 10 से 12 फिर 12 से 14 घण्टे तक भी उन्होंने पढ़ाई की है। उनका कहना है कि पढ़ाई में नियमितता होनी चाहिए यही नियमितता ही एक दिन सफलता का मार्ग प्रशस्त करेगी।

उन्होंने कहा कि शुरुआत से 16 घंटे की पढ़ाई करने का कोई मतलब नहीं है ऐसा करने से हम अपने targets को प्रतिदिन achieve नहीं कर पाते हैं।

जागृति अवस्थी का वैकल्पिक विषय : समाजशास्त्र

UPSC CSE 2020 टॉपर रैंक 2 जागृति अवस्थी का वैकल्पिक विषय (Optional subject of Jagrati avasthi) समाजशास्त्र था। उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद समाजशास्त्र विषय से upsc की परीक्षा में दूसरी रैंक लाना लोहे के चने चबाने जैसा ही कठिन कार्य है क्योंकि दोनों की विषयवस्तु में जमीन आसमान का अंतर है। फिर भी इतिहास गवाह है कि हौसला और कठिन परिश्रम के आगे मंजिल को झुकना ही पड़ा है। कुछ ऐसा ही हुआ जागृति अवस्थी के साथ।

सफलता का श्रेय गुरु और माता-पिता : UPSC CSE AIR – 02

जागृति अवस्थी ने बताया कि उनकी सफलता का प्रथम श्रेय माता पिता को है। लेकिन उनके पिता का कहना है कि किसी भी सफलता का प्रथम श्रेय गुरुओं को दिया जाना चाहिए। जागृति के माता पिता और उनकी पूरी फैमली उनका बहुत सपोर्ट करते थे। तैयारी के दौरान उनके भाई का बेहद अहम योगदान रहा है। टेस्ट के पेपर्स को चेक करने से लेकर उनको मोटिवेट रखने तक उनके भाई का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

तैयारी में रिवीजन है महत्वपूर्ण : Said Jagrati avasthi

यूपीएससी सिविल सर्विसेज 2020 में रैंक 2 प्राप्त करने वाली जागृति अवस्थी का कहना है कि UPSC की तैयारी के दौरान रिवीजन का अहम योगदान रहता है। रिवीजन के अभाव से ही उन्होंने 2019 का प्रिलिम्स भी नहीं clear कर पाई थी। साल 2020 की परीक्षा में उन्होंने इस कमी को दूर करके लगभग 10 से 15 बार प्रत्येक सेगमेंट का revision करके परीक्षा दी और परिणाम सबके सामने है।

निष्कर्षतः यह कहा जा सकता है कि UPSC की परीक्षा है तो भारत की सबसे उच्चतम परीक्षा लेकिन उतना भी कठिन नहीं है जितना लोगों द्वारा इसे समझा जाता है। अच्छी और सटीक रणनीति से तथा निरंतर कठिन मेहनत से यदि इस परीक्षा की तैयारी की जाय तो अभ्यर्थी न केवल सफल हो सकता है बल्कि अच्छी रैंक भी हासिल कर सकता है।

Related posts :

Tag :

UPSC TOPPER 2020 , UPSC Topper 2020 Rank 2 , UPSC CSE 2020 AIR 2 , UPSC Topper Jagrati avasthi , UPSC RANK 2 TOPPER , UPSC Topper strategy , UPSC Topper 2020 rank 2 in hindi , UPSC 2020 Female topper , UPSC Topper Jagrati avasthi in hindi.

Leave a Comment

x