Present indefinite tense in hindi | अभी जानें Present indefinite tense का अनुवाद करने का नियम बहुत ही आसान तरीके से

जय हिंद साथियों 🙏🇳🇪 

आज हम यहां इस लेख के माध्यम से Present indefinite tense को सीखने का प्रयास करेंगे। इस Article के अंतर्गत आपको Present indefinite tense Identification , present indefinite tense Structure , और Present Indefinite tense Hindi to English Translation Rules के बारे में बताएंगे।

इस article (लेख) को पढ़ने के बाद आप Present indefinite tense के बारे में लगभग सभी बातें जान जाएंगे और आपको Present Indefinite Tense के Translation के rules भी clear हो चुके होंगे।

● Present Indefinite tense के 120+ Sentences (Exercise)

Present Indefinite Tense :

Present Indefinite Tense एक बहुत ही महत्वपूर्ण Tense है। यह सबसे पहला Tense है। हम जानते हैं कि Tense 3 प्रकार के होते हैं- 1. Present tense , 2. Past tense और 3. Future tense . 

साथ ही सभी Tenses के 4-4 रूप या Form होते हैं-

1. Indefinite 

2. Continuous

3. Perfect

4. Perfect continuous 

इस प्रकार यह Present Indefinite Tense सबसे शुरुआती Tense है।

 Present Indefinite Tense – अनिश्चित वर्तमान काल

Present Indefinite Tense की हिंदी अनिश्चित वर्तमान काल होती है। दूसरे शब्दों में Present Indefinite Tense को हिंदी में अनिश्चित वर्तमान काल कहते हैं। इस Tense के वाक्यों को देखने पर उस Sentence में हो रहे कार्य की अनिश्चितता का बोध होता है इसी कारण इस Tense को अनिश्चित वर्तमान काल (Present Indefinite Tense) कहा जाता है।

इसके अतिरिक्त अगर बात करें Present Indefinite Tense की तो आज के Modern English में इसे Simple present tense भी कहा जाता है। अतः इस Tense का दूसरा नाम Simple present tense या साधारण वर्तमान काल होता है।

Identification of Present Indefinite tense –

Present Indefinite Tense की पहचान : अगर बात करें Present Indefinite Tense की पहचान (Identification) के बारे में तो हम कह सकते हैं कि – जिन हिंदी वाक्यों के अंत में ‘ता है’, ‘ती है’, ‘ते हैं’, ‘ता हूँ’, ‘ते हैं’, ‘ती हो’, आदि शब्द आते हैं वे वाक्य Present Indefinite Tense के होते हैं।

ऐसे वाक्यों में कार्य का होना या करना पाया जाता है। अर्थात वाक्य में जो भी कार्य (Action) होता है वह किसी कर्ता या Subject के द्वारा किया जाता है।

Examples :

1. मैं अपना काम प्रतिदिन करता हूँ। 

I do my work daily

2. शिवम खाना बनाता है। 

Shivam cooks food.

3. वह प्रयागराज जाना चाहता है। 

He want to go Prayagraj.

नोट: उपरोक्त वाक्यों में देखेंगे कि क्रमशः वाक्य नं. 1, 2, और 3 में कर्ता (मैं, शिवम और वह) के द्वारा कार्य होते हैं , ये पता चल रहा है।

Helping verb of Present Indefinite Tense :

इस tense की Helping verb या सहायक क्रिया Do और Does होती हैं।

Helping Verb : Do & Does 

Do का प्रयोग Singular Subjects के साथ होता है।

Does का प्रयोग Plural subjects के साथ किया जाता है।

Present Indefinite tense Translation rules in hindi :

AFFIRMATIVE SENTENCES

Affirmative sentence को साधारण वाक्य कहते हैं। यह ऐसे वाक्य होते हैं जिनमें कार्य के होने की सकारात्मकता प्रदर्शित होती है। नीचे दिए गए Sentences को देखें-

ऐसे वाक्यों में हमें ‘नहीं’, शब्द और कोई भी ‘प्रश्नवाचक शब्द’ या Question word देखने को नहीं मिलता है।

Present Indefinite Tense के Affirmative sentences के हिंदी से अंग्रेजी अनुवाद के समय Helping verb का प्रयोग नहीं किया जाता है। 

Present Indefinite Tense के Affirmative sentences के हिंदी से अंग्रेजी अनुवाद के समय Third person Singular Subjects (He, She, It, Ram, shyam, seeta etc.) के साथ Verb में (s/es) लगा देते हैं। देखें वाक्य नं० 2, 3 , 4 और 6।

【चूंकि सभी verbs अपने मूलरूप में Plural form में होते हैं जबकि अंग्रेजी का नियम यह कहता है कि Singular subject के साथ Singular verb का तथा plural verb के साथ Plural verb का प्रयोग किया जाता है। इस लिए Verb को singular बनाने के लिए उसमें S/es लगाया जाता है।】

[Structure : Subject + Verb 1st (s/es) + Object + Other] 

Example :

1. तुम एक पत्र लिखते हो। 

You write a letter.

2. वह क्रिकेट खेलता है। 

He plays cricket.

3. वह गरीबों की मदद करती है। 

She helps poors.

4. मोहन एक मधुर गीत गाता है। 

Mohan sings a sweet song.

5. हम अपने देश से प्रेम करते हैं। 

We love our country.

6. सूर्य पूर्व में निकलता है।

The sun rises in the east.

NEGATIVE SENTENCES : 

Negative Sentences को नकारात्मक वाक्य कहते हैं। इसमें किसी भी कार्य के होने की नकारात्मकता प्रदर्शित होती है। दूसरे शब्दों में इस तरह के वाक्यों में कार्य का न होना विदित होता है।

Present Indefinite Tense के Negative Sentences के अनुवाद में Helping verb (Do/Does) का प्रयोग किया जाता है।

Present Indefinite Tense के Negative Sentences का हिन्दी से अंग्रेजी में अनुवाद करते समय Verb के 1st form में s/es नहीं लगता है। 

➨ singular subjects के लिये Does not (Doesn’t) का प्रयोग करते हैं जबकि Plural Subjects के साथ Do not (Don’t) का प्रयोग किया जाता है।

➨ अगर वाक्य में कभी नहीं आता है तो उसके लिए Never का प्रयोग करते हैं साथ ही इसमें Helping verb do/does का प्रयोग नहीं होता और इसके verb में s/es का प्रयोग singular subjects के साथ किया जाता है। अर्थात इसका translation affirmative sentence की भांति होता है। (देखें वाक्य- 4)

Structure : Subject + Do/Does + not + verb (1st) + object + other】 

Examples :- 

1. मैं अपना गृहकार्य नहीं करता हूँ। 

I do not do my homework.

2. तुम स्कूल नहीं जाते हो। 

You do not go to school.

3. हम अपने कपड़े नहीं धुलते हैं। 

We don’t wash our clothes.

4. वह कभी स्कूल नहीं जाता है। 

He never goes to school.

5. सीता सुंदर नहीं दिखती है। 

Seeta does not look so beautiful.

INTERROGATIVE SENTENCES : 

Interrogative sentences को प्रश्नवाचक वाक्य कहा जाता है। ऐसे वाक्यों में प्रश्न पूछने की अनुभूति होती है। ये प्रश्नवाचक वाक्य 2 प्रकार के होते हैं–

1. Close ended questions : ऐसे प्रश्न जिनका उत्तर सिर्फ हां या नहीं (Yes/No) में दिया जा सके वे Close ended questions कहलाते हैं। इन्हें Yes-No type questions भी कहते हैं।

(ऐसे वाक्यों में ‘क्या’ प्रश्नसूचक शब्द वाक्य के शुरुआत में ही आ जाता है।)

जैसे- 

• प्रश्न – क्या वह स्कूल जाता है ? (Does he go to school daily ?)

 उत्तर – हां / नहीं (Yes / No)

उपर्युक्त प्रश्न का उत्तर हां या नहीं मात्र कह देने से प्रश्नकर्ता संतुष्ट हो जाता है।

2. Open ended questions : ऐसे प्रश्न जिनका उत्तर हां या नहीं (Yes/No) में नहीं दिया जा सकता है , इनका उत्तर विस्तृत रूप में दिया जाता है। ऐसे प्रश्न Open ended questions कहलाते हैं। इन्हें Wh-type questions भी कहते हैं।

(ऐसे वाक्यों में कोई भी प्रश्नसूचक शब्द वाक्य के बीच में आता है।)

जैसे- 

• प्रश्न – तुम क्यों स्कूल जाते हो ? (Why do you go to school ?)

उत्तर – हां / नहीं (❌)

उपर्युक्त प्रश्न का उत्तर मात्र हां / नहीं में नहीं दिया जा सकता है। इसका उत्तर देने के लिए उसका पूर्ण कारण बताना होगा कि तुम स्कूल क्यों जाते हो?

Close Ended questions या Yes/No type questions वाले sentences का अंग्रेजी में अनुवाद करते समय Helping verb (Do/Does) सबसे पहले आती है, फिर subject आता है तत्पश्चात verb की base form (1st form) आती है।

[Structure : Do/Does + Subject + verb (1st) + Object + other]

Open ended questions या Wh-type questions वाले Sentences का हिंदी से अंग्रेजी में अनुवाद करते समय सबसे पहले वाक्य में आये हुए प्रश्नसूचक शब्द (Question word) की अंग्रेजी , फिर Helping verb , फिर Subject , तत्पश्चात verb की base form के बाद object आते हैं।

[Structure : Que. Word + Do/Does + Subject + verb (1st) + Object + other]

हम जानते हैं कि He , she , it और एकवचन कर्ता (Singular subject) के साथ Does का प्रयोग करते हैं तथा I , we , you , they तथा बहुवचन कर्ता (Plural subjects) के साथ Do का प्रयोग करते हैं।

Interrogative sentences में Verb (क्रिया) की 1st form में s/es नहीं लगाते हैं। 

अगर हिंदी वाक्य में कितना (How much) , कितने (How many) तथा कौन-सा (Which) शब्द आता है तो उसका Translation करते समय उनसे संबंधित Nouns भी Question word के साथ ही आ जाते हैं। अर्थात इनका translation उपर्युक्त structure के अनुसार नहीं होगा।

अगर वाक्य में कर्ता ज्ञात न हो अर्थात ‘कौन’ शब्द कर्ता (Subject) का कार्य कर रहा हो तो Who के साथ सहायक क्रिया (Helping verb) का प्रयोग नहीं होता और अगर singular subjects का आभास हो तो verb में s/es भी लगा देते हैं।

वाक्य के अंत मे प्रश्नसूचक चिन्ह (?) अवश्य आता है।

Examples : 

1. क्या वह क्रिकेट खेलने जाता है ? 

Does He go to play cricket ?

2. क्या तुम सुबह उठते हो ? 

Do you arise in morning ?

3. श्याम प्रतिदिन स्कूल क्यों जाता है ?

Why does Shyam go to school daily ?

4. वे प्रतिदिन सुबह कहाँ जाते हैं ? 

Where do they go every morning.

5. वह स्कूल कब जाती है ? 

When does she go to school ?

6. सीता कितने घंटे पढती है ? 

How many hours does Seeta read ?

7. तुम कौन सी किताब खरीदना चाहते हो ? 

Which book do you want to buy ?

8. यहां प्रतिदिन कौन आता है ? 

Who comes here daily ?

INTERROGATIVE NEGATIVE SENTENCES : 

Interrogative negative sentences वे Sentence होते हैं जिनसे प्रश्न पूछने का भाव नकारात्मक रूप से प्रतीत होता है।

Interrogative negative sentences का अनुवाद Interrogative sentences की भांति ही होता है सिर्फ इसमें Subject के तुरंत बाद Not लगा देते हैं।

[Structure :  Does/Do + Subject + Not + verb 1st + Object + other] 

[Structure : Wh-word + Does/Do + Subject + Not + verb 1st + Object + other] 

अगर ‘कौन‘ शब्द कर्ता (Subject) का कार्य कर रहा हो तो Who के साथ Does not या Do not का प्रयोग करते हैं, साथ ही verb की 1st form के साथ s/es नहीं लगाते हैं।

Examples : 

1. क्या वह स्कूल नहीं जाती है ?

Does he not go to school ?

2. क्या तुम सुबह दौड़ने नहीं जाते हो ? 

Do you not go to running in the morning ?

3. बच्चे रात को खाना क्यों नहीं खाते हैं ? 

Why do the children not eat food in night ?

4. दूध कौन नहीं पसंद करता है ? 

Who does not like the milk ?

Related posts : इन्हें भी देखें 👇

इस प्रकार हम देखते हैं कि ऊपर बताए गए Present indefinite tense rules की सहायता से हम Present indefinite tense का translation बहुत ही आसानी से कर सकते हैं।

Leave a Comment

x