UPSC IAS Preparation tips in hindi | आईएएस की तैयारी कैसे करें ? | UPSC Exam crack करने के 5 Requirements | How to crack IAS in hindi

UPSC IAS Preparation tips in hindi

UPSC IAS Preparation tips in hindi
UPSC IAS Preparation tips in hindi

नमस्कार, जय हिंद साथियों 🙏 

UPSC IAS Preparation tips in hindi : हम जानते हैं कि UPSC CSE EXAM भारत का सबसे कठिन Exam माना जाता है। यह परीक्षा भारतीय नौकरशाही के सबसे उच्च पद IAS Officer बनाने के लिए आयोजित की जाती है। इस परीक्षा को पास करने वाला Condidate देश के अनेक उच्च पदों पर आसीन होता है। यही उच्च पदों पर आसीनता और इसकी प्रतिष्ठा ही भारत के युवा वर्ग में इसके प्रति आकर्षण का मुख्य कारण है। इसी आकर्षण के कारण ही इस परीक्षा में लाखों अभ्यर्थी Participate करते हैं। किंतु इसके लिए प्रतिवर्ष कुछ सौ या लगभग एक हजार पदों पर नियुक्ति के लिए परीक्षा कराई जाती है। ऐसे में यह UPSC IAS की परीक्षा बहुत ही प्रतिस्पर्धी और कठिन परीक्षा हो जाती है।

How to crack upsc IAS exam in hindi : आईएएस की तैयारी कैसे करें –

बहुत थोड़े से पदों के लिए लाखों लाख अभ्यर्थियों का आवेदन यह दर्शाने के लिए काफी है कि इस पद को प्राप्त करने के लिए भारतीय युवाओं में कितनी होड़ लगी हुई है। ऐसे में सभी UPSC Aspirant यह चाहता है कि वह कुछ extra करे , कुछ अलग करे , कुछ ऐसा करे जिससे उसके Selection का Chance बढ़ जाये। इसी उद्देश्य से वह कुछ खास प्रकार के सूत्र के तलाश में रहता है जिससे उसकी UPSC IAS Preparation आसान हो सके।

अगर आप भी इस Catagory के UPSC aspirant हैं तो आप इस article पर बहुत सही जगह पर आए हैं , क्योंकि यहां हम आज इस लेख के अंतर्गत आपको UPSC CSE Exam को Crack करने की 5 Requirements के बारे में बताएंगे। तो अंत तक बने रहें हमारे इस UPSC Preparation tips in hindi के लेख में।

5 Requirements of UPSC Exam in hindi : यूपीएससी की तैयारी कैसे करें ?

आइये जानते हैं कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में जो UPSC IAS Exam Preparation की राह को बहुत ही आसान बना देता है―

1. Understanding of UPSC Exam : यूपीएससी परीक्षा को समझें

यूपीएससी की तैयारी शुरू करने से पहले सबसे महत्वपूर्ण काम करना चाहिए कि यूपीएससी की परीक्षा (UPSC Exam) को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए UPSC IAS Exam को समझने से आपकी आगे की तैयारी की राह आसान हो जाएगी।

upsc exam को समझने का तात्पर्य है कि UPSC IAS EXAM के बारे में सभी जानकारियां इकट्ठा कर लेना चाहिए। जैसे – UPSC IAS Syllabus , Upsc exam pattern , Exam difficulty , Qualifications , UPSC Questions type , Scoring pattern of UPSC exam आदि।

इसके अलावा UPSC IAS की परीक्षा का स्तर , प्रश्नों के प्रकार , UPSC exam में पूछे जाने वाले विषय , तथा विषय से इतर क्या-कैसे प्रश्न आ सकते हैं , यूपीएससी परीक्षा के मानदंड , परीक्षा में बैठने की शैक्षिक योग्यता , यूपीएससी परीक्षा के पेपर कौन बनाता है , आईएएस बनने के लिए मेडिकल मानदंड क्या होते हैं , आईएएस परीक्षा की जांच कौन करता है , इसके अलावा यूपीएससी आईएएस परीक्षा में उत्तर लेखन कैसे , कितना किया जाता है आदि।

इसे देखें 👇

● UPSC Exam all Basic information in hindi

इन सभी बातों को जान लेने के बाद आप स्वयं की कमजोरी , परीक्षा की Requirements तथा अपने और स्वयं और परीक्षा के बीच के अंतर को आसानी से जान सकेंगे। साथ ही अगर आप इन बातों को जान जाएंगे तो आप यह भी सीख जाएंगे कि स्वयं को दूसरों से Differentiate कैसे कर पाएंगे जिससे आपको अच्छे अंक प्राप्त होने में आसानी होगी।

2. Optional subject Selection for UPSC IAS exam : वैकल्पिक विषय का चयन

तैयारी को आसान बनाने के लिए दूसरा सबसे महत्वपूर्ण चरण होता है वैकल्पिक विषय का चयन करना। UPSC IAS Optional subject के चयन करने से आपको अपनी तैयारी के मध्य में विचलित नहीं होना पड़ेगा। अभ्यर्थियों को चाहिए कि तैयारी की शुरुआत में ही Optional subject का चयन कर ले जिससे उसे अपनी तैयारी की सही दिशा मिल सके।

अभ्यर्थियों को चाहिए कि अपनी रुचि (Intrest) , अंकप्राप्ति का स्तर (Scoring) , अध्ययन के स्रोतों की सुगमता , हाल के कुछ सालों में पेपर के अंक प्राप्ति , स्वयं के आत्मविश्वास (Self confidence) तथा खुद की Strength और weakness इत्यादि पहलुओं को देखकर अपने वैकल्पिक विषय का चयन करना चाहिए। UPSC IAS Optional subject selection के बाद आप अपनी तैयारी को पूरे जोर-शोर से शुरू कर दें।

3. Plan of action : तैयारी की बेहतर रणनीति

UPSC IAS की तैयारी की अगला चरण में आप plan of action पर Focus करें। अपनी तैयारी के लिए जितना संभव हो सबसे अच्छी रणनीति बनाएं। Plan of action के अंतर्गत हम कुछ खास बातों पर ध्यान दे सकते हैं। ये निम्नलिखित हैं―

(i) UPSC EXAM Sources – Sources of study for UPSC IAS को निश्चित कर लें। sources में किताबें , ऑनलाइन स्रोत तथा Youtube व telegram आदि के स्रोतों को भी निश्चित कर लें जिससे कि तैयारी में भटकाव से बचा जा सके। तथा समय का सही मायने में सदुपयोग हो सके।

(ii) UPSC IAS की तैयारी के दौरान पढ़ाई करते समय आप अपने Senses को अपनी ज्ञानेंद्रियों को जागृत या activate कर लें। इस activation का लाभ आपको निश्चित ही देखने को मिलेगा। इसे आप Concentration भी कह सकते हैं। Concentrate होकर पढ़ने से आपके अंतः ज्ञान चक्षु धीरे धीरे खुलने लगेंगे और आप अधिक आत्मविश्वास और आत्मबल महसूस करेंगे।

(iii) Time table – यूपीएससी की तैयारी में आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण होना चाहिए कि आप अपना एक time table बना लें और उसे पूरा करने का हर संभव प्रयास करना चाहिए।

(iv) अगर आप सोने के तुरंत पहले या उठने के तुरंत बाद 15 मिनट में अगले 24 घण्टे का एक working plan बना लें और उसे पूरी तरह से follow करें तो यह आपके तैयारी में चार चांद लगा देगा। ऐसा करने से आप निश्चित ही ज्यादा Output प्राप्त करेंगे।

(v) पढ़ाई करने के बाद कम से कम 10 से 15 मिनट में जो कुछ भी अपने एक बार बैठने पर पढ़ा उसको review करने का प्रयास करें। यह किसी भी पढ़ी हुई चीज को लंबे समय तक याद रखने का सबसे बेहतरीन उपाय है। ऐसा करने से आप जल्द ही अपने अंदर बदलाव देखने लगेंगे।

(Vi) अपने पढ़ाई के लिए निश्चित स्थान रखें और अपने आस पास वैसा ही माहौल बनाये रखें। क्योंकि जब आप study environment में रहेंगे तो आप पढ़ने की ओर अधिक से अधिक प्रेरित होंगे। जिसका सीधा सा लाभ आपकी तैयारी में होगा।

4. Answer writing for UPSC : उत्तर लेखन को ध्यान दें –

तैयारी के चौथे महत्वपूर्ण tips में हम कह सकते हैं कि प्रत्येक सीरियस अभ्यर्थी को अपने उत्तर लेखन की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए। क्योंकि हम सभी जानते हैं कि यूपीएससी सिविल सर्विसेज (UPSC Civil services) का Mains exam लिखित परीक्षा होती है। अभ्यर्थियों द्वारा लिखा गया उत्तर ही examiner को Aspirant से अवगत कराता है। अतः Serious upsc aspirant अपने इस पक्ष पर विशेष ध्यान देता है।

इसके लिए आप परीक्षा से कुछ दिन पहले test series join कर सकते हैं। यह एक बेहतर विकल्प हो सकता है स्वयं की योग्यताओं को अधिक से अधिक निखारने का।

5. Self Evaluation : स्वमूल्यांकन करें

UPSC Aspirant को चाहिए कि वह थोड़े थोड़े समय पर अपने आपका मूल्यांकन करता रहे। इससे उसे अपने अंदर की गलतियों का पता चलेगा जिसे वह सुधार कर सकेगा।

स्वमूल्यांकन आप हर पहलू पर कर सकते हैं चाहे वह उत्तर लेखन में हो या Personality development में या Knowledge level में या Subject understanding में। इन सभी मायनो में आपको स्वयं को निखारना है तथा अपने आपको बेहतर से और बेहतर बनाने का प्रयास करना है।

Related articles : 👇

निष्कर्ष : आईएएस की तैयारी कैसे करें

इस प्रकार हम देखते हैं कि UPSC EXAM की कुछ Basic Requirements को ऊपर बताया गया है जिसे अगर आप अपनाते हैं तो इससे आपको सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते हैं। किंतु ध्यान देने वाली बात यह है कि ऊपर बताई गई सभी बातें UPSC Toppers द्वारा बताई गई बातों का सार है इसे आप मानने या न मानने के लिए स्वतंत्र हैं। आप अपनी इच्छानुसार इसे अपने जीवन मे उतार सकते हैं।

Tags : upsc ias ki taiyari kaise kare , Ias exam preparation tips in hindi , How to prepare for upsc ias in hindi , ias preparation in hindi , Ias ki taiyari kaise kare , UPSC toppers , Ias exam preparation , UPSC IAS preparation tips in hindi, आईएएस की तैयारी कैसे करें, यूपीएससी की तैयारी कैसे करें,  how to crack upsc IAS exam in hindi, upsc ias ki taiyari kaise kare, आईएएस की तैयारी कैसे करें,

Leave a Comment

x