UPSC Syllabus | UPSC Syllabus in hindi | UPSC Prelims syllabus in hindi | UPSC Mains syllabus in hindi

UPSC Syllabus : हम जानते हैं कि UPSC IAS की परीक्षा देश की सर्वप्रतिष्ठित परीक्षा है। UPSC की परीक्षा के लिए देश के लाखों युवा अभ्यर्थी आवेदन करते हैं। किंतु लाखों में से कुछ ही (लगभग 1000) अभ्यर्थी Select होते हैं। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थी देश के विभिन्न प्रशासनिक पदों पर नियुक्त होते हैं।

IAS की इस प्रतिष्ठित परीक्षा को यूपीएससी आयोग द्वारा आयोजित की जाती है। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (Union public service commission) द्वारा आयोजित भारतीय प्रशासनिक सेवा (Indian administrative service) भर्ती परीक्षा का संपूर्ण पाठ्यक्रम नीचे क्रमबद्ध तरीके से दिया गया है।

Upsc syllabus
UPSC Syllabus

UPSC IAS Syllabus in hindi :

UPSC IAS Syllabus की इस पोस्ट के अंतर्गत UPSC prelims syllabus और UPSC mains syllabus को समझेंगे साथ ही साथ अंत में UPSC syllabus pdf दिया गया है जिसे आप Download करके प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं। इससे आप इसे प्रतिदिन देख सकेंगे।

UPSC ias की तैयारी करने वाले सभी अभ्यर्थियों को चाहिए कि तैयारी (UPSC Preparation) के शुरुआत में ही upsc syllabus को अच्छी तरह समझ लें। इससे आप परीक्षा की वास्तविक आवश्यकताओं को समझ सकेंगे।

UPSC IAS EXAM PATTERN : UPSC Syllabus

UPSC IAS Exam pattern : UPSC IAS की परीक्षा तीन चरणों से गुजरते हुए सम्पन्न होती है जिसमे पहला चरण होता है UPSC Prelims. इसके बाद इस चरण के उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को UPSC Mains से होकर गुजरना पड़ता है। तथा सबसे अंतिम चरण UPSC Interview का होता है। इसमें उम्मीदवार की Personality test की जाती है कि वह देश के जिस प्रशासनिक पद पर बैठने जा रहा है उस योग्य वास्तव में है भी या नहीं।

इस प्रकार UPSC IAS EXAM के तीन चरण (3 Stages) निम्नलिखित हैं―

  1.  Prelims (UPSC Preliminary exam)
  2.  Mains (UPSC Mains exam)
  3.  Interview (UPSC Personality test)

UPSC IAS Prelims Syllabus & Exam pattern:

UPSC IAS की प्रतिष्ठित परीक्षा का प्रथम चरण UPSC Prelims होता है। यह एक प्रकार का शुरुआती चरण है जिसके अंतर्गत सभी उम्मीदवारों को 2 papers देने होते हैं। अर्थात UPSC IAS PRELIMS के अंतर्गत 2 परीक्षाएं होती हैं। ये निम्नलिखित हैं-

  1.  General Studies
  2.  CSAT

ये दोनों पेपर वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्नों (Objective type questions) से युक्त होते हैं। अर्थात इसमें objective questions होते हैं। इनके प्रश्नों व निर्धारित समय का विवरण नीचे दिया गया है-

इनमें से General Studies वाले पेपर से Mains के लिए Cut-Off का निर्धारण होता है जबकि CSAT वाला पेपर Qualifying nature का होता है। अर्थात CSAT में केवल 33% अंक प्राप्त करना अनिवार्य होता है। जबकि General studies के आधार पर आगे के Mains के लिए मेरिट बनती है।

UPSC Prelims General studies Syllabus :

UPSC PRELIMS में General studies का पेपर शुरुआती paper है। जैसा कि ऊपर बताया गया है कि इस परीक्षा में 100 वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होते हैं जोकि 200 अंको के होते हैं। इसके लिए 2 घण्टे का समय उम्मीदवारों को दिया जाता है। आईये इसके Syllabus को समझते हैं कि इस परीक्षा में किस किस सेगमेंट से प्रश्न पूछे जाते हैं-

UPSC Prelims Syllabus in hindi : General studies

  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की सामयिक घटनाएं।
  • भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन ।
  • भारत एवं विश्व भूगोल भारत एवं विश्व का प्राकृतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल
  • भारतीय राज्यतन्त्र और शासन संविधान, राजनैतिक प्रणाली, पंचायती राज, लोक नीति, अधिकारों संबंधी मुद्दे, आदि।
  • आर्थिक और सामाजिक विकास सतत विकास गरीबी समावेशन, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल आदि।
  • पर्यावरणीय पारिस्थितिकी जैव-विविधता और मौसम परिवर्तन संबंधी सामान्य मुद्दे, जिनके लिए विषयगत विशेषज्ञता आवश्यक नहीं है।
  • सामान्य विज्ञान

UPSC Prelims CSAT Syllabus :

UPSC CSAT के अंतर्गत भी Objective type के 80 प्रश्न पूछे जाते हैं। इन 80 प्रश्नों के 200 अंक होते हैं। अर्थात एक प्रश्न के 2.5 अंक होते हैं। इस पेपर के लिए भी 2 घंटे की अवधि दी जाती है। हम जानते हैं कि यह प्रश्नपत्र एक प्रकार का अर्हक पेपर (Qualifying exam) होता है।  जिसके लिए 33% (66 marks) अंक प्राप्त करने होते हैं।आईये अब देखते हैं कि इस परीक्षा में किस किस सेगमेंट से प्रश्न पूछे जाते हैं-

UPSC Prelims Syllabus in hindi : CSAT

  • बोधगम्यता
  • संचार कौशल सहित अंतर वैयक्तिक कौशल
  • तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • आधारभूत संख्यनन (संख्याएं और उनके संबंध, विस्तार क्रम आदि) (दसवीं कक्षा का स्तर). आकड़ों का निर्वचन (चार्ट, ग्राफ, तालिका आकड़ों की पर्याप्तता आदि दसवीं कक्षा का . स्तर)

UPSC Mains syllabus in hindi :

Leave a Comment

x