अतरंजीखेड़ा | Ataranjikheda | अतरंजीखेड़ा पुरास्थल की सभी जानकारियां | atranjikhera history

यह प्राचीन अतरंजीखेड़ा (Ataranjikheda) पुरास्थल उत्तर प्रदेश के एटा जिले में गंगा नदी की सहायक काली नदी के दाहिनी तट पर स्थित है। अलेक्जेण्डर कानिंघम ने सन् 1861-62 में इसी स्थान पर उत्खनन कराया था। उत्खनन के पश्चात् उन्हें विशेष प्रकार सं रंगा हुआ टीला प्राप्त हुआ था। इस टीले की पहचान अतिरंजीखेड़ा के नाम से हुई।

प्राचीन भारत के ऐतिहासिक पुरास्थल | 5 important Historical Sites of Ancient India in hindi | Ancient sites in hindi

अतरंजीखेड़ा (उत्तर प्रदेश में एटा जनपद में स्थित Historical sites) से गैरिक मृद्भाण्ड संस्कृति से लेकर गुप्त युग तक के अवशेष प्राप्त हुए हैं। अधिकांश अवशेष चित्रित धूसर मृद्भाण्ड संस्कृति से सम्बद्ध हैं।

बोगजकोई अभिलेख | Bogaj koi inscription in hindi | Bogajkoi abhilekh | बोगजकोई अभिलेख की खोज | important for upsc

Bogajkoi abhilekh: बोगजकोई एशिया माइनर (वर्तमान-तुर्की) का एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थल है। बोगजकोई की महत्ता इसलिए है कि इसी स्थान से विश्व का प्राचीनतम अभिलेख प्राप्त हुआ था जिसे इतिहास में बोगजकोई अभिलेख (Bogajkoi inscription) के नाम से जाता है। यह अभिलेख विश्व का प्राचीनतम अभिलेख इसलिए है कि इसे विद्वानों ने 1400 ई०पू० का … Read more

कौशाम्बी पुरास्थल | Kaushambi site in hindi | कौशाम्बी का इतिहास | History of kaushambi in hindi

इलाहाबाद शहर से उत्तर तथा पश्चिम यमुना के किनारे स्थित आज का कौशाम्बी ग्राम बौद्ध कालीन नगरी कौशाम्बी के अवशेषों पर बसा है।

कौशाम्बी की उत्खनित सामग्रियों में मुख्यतः तीन वस्तु अवशेष विशेष उल्लेखनीय है : (१) घोषीताराम विहार, (२) सुरक्षा प्राचीर और (३) पाषाण निर्मित प्रासाद।
Kaushambi site in hindi

सोहन संस्कृति | Sohan culture in hindi | सोहन संस्कृति की विशेषता | Soan valley culture in hindi

भारत में आदि पुरापाषण कालीन संस्कृति का मुख्य केन्द्र पंजाब (पश्चिमी पाकिस्तान) में है। फलकों के साथ-साथ पेबुल उपकरण और पेबुल काल पाये गये ही हैं, हैण्डेक्स भी एक स्थान से मिले हैं। इन पेबुल उपकरण एवं फलक प्रधान संस्कृति को सोहन परम्परा कहा गया है। Sohan culture in hindi

श्रृंगवेरपुर पुरास्थल | Shringver pur site in hindi | श्रृंगवेरपुर धाम का इतिहास | रामायण कालीन स्थल ‘श्रृंगवेरपुर’

 श्रृंगवेरपुर भारतीय पुरातत्व का एक प्राचीन पुरास्थल है।जहां एक ओर अनेकों भारतीय संस्कृत साहित्य व धर्म ग्रंथों में इस स्थल की आध्यात्मिक महत्ता है वहीं दूसरी ओर यहीं से प्राप्त पुरावशेषों की प्राप्ति से इस स्थल की पुरातात्विक महत्ता सिध्द है। आज यह श्रृंगवेरपुर स्थल भारत के एक प्रमुख पर्यटक स्थल के रूप में भी … Read more

पुरातात्विक उत्खनन कैसे होता है | पुरातात्विक उत्खनन की 2 विधियां | 2 methods of archaeological excavation in hindi

पुरातात्विक उत्खनन कैसे होता है : भौतिक अवशेषों द्वारा अतीत के अध्ययन को पुरातत्व कहते हैं। पुरातत्व अंग्रेजी भाषा में Archaeology कहा जाता है। यह यूनानी भाषा के दो शब्दों Archaois तथा logos शब्दों से मिलकर बना है। जिसमे archaois का अर्थ है ‘पुरातन’ तथा logos का अर्थ है ‘ज्ञान’ , इस प्रकार इसका शाब्दिक … Read more

पुरातत्व किसे कहते हैं ? पुरातत्व का सामाजिक विज्ञान के विषयों से संबंध | What is archaeology in hindi | Relation of archaeology with social science.

 पुरातत्व को परिभाषित कीजिये तथा उसका सामाजिक विज्ञान से संबंध बताईये – “Archaeology is a study of clue in which planning and chances play a vital role in excavation. “पुरातत्व एक संकेत क्रम का अध्ययन है जिसमें योजनाएँ एवं परिस्थितियाँ उत्खनन में महत्वपूर्ण भूमिका प्रस्तुत करती है। साधारणतया इसे अध्ययन की वह विधा माना जाता … Read more

पुरातत्व की 32 परिभाषाएं | पुरातत्व क्या है ? | What is archaeology ? | Definition of archaeology in Hindi & English | Puratatva ki best paribhasha

Definition of archaeology : What is archaeology : 1. According to Grah. Clarc:  “Archaeology may be simply defined as a systematic study of antiquities as a means of reconstructing the past.”  2. archaeology is the study of human activities through the recovery and analysis of material culture. 3. According to Larry j zimmerman: “archaeology is … Read more

पुरातत्त्व क्या है ? पुरातत्त्व का विज्ञान व मानविकी के विषयों से संबंध | Puratatva kya hai, aur puratatva ka manviki aur vigyan se sambandh in Hindi

Puratatva kya hai : “Archaeology May be simply defined as a systematic study of antiquities as a means of reconstructing the past..” कोफोर्ड के अनुसार:- ” पुरातत्व विज्ञान की वह शाखा है जिसमें अतीत के गर्भ में विलुप्त मानव संस्कृतियों का अध्ययन किया जाता है।” मनुष्य अपने जन्म काल से ही जीवन संस्कृति और कला … Read more

x