असीरिया की सभ्यता | Assyrian civilization in hindi | मेसोपोटामिया की सभ्यता | असीरियन सभ्यता का सम्पूर्ण इतिहास

  दजाला-फरात नदी-घाटी की विशिष्ट भौगोलिक स्थिति के कारण यहाँ सभ्यताएँ फली-फूलीं और विकसित हुई। दजला- फरात नदियों का उर्वर और अपनी उर्वरता के कारण विभिन्न जातियों के आकर्षण का केन्द्र बना। परिणामस्वरूप यहाँ विभिन्न जातियों के लोग आकर बसे और उनाने अपनी सभ्यता एवं संस्कृति का विकास किया। Contents [hide] असीरिया की सभ्यता (Assyrian … Read more

बेबिलोनिया की सभ्यता | Babylonian civilization in hindi | हम्मूराबी कौन था ? हम्मूराबी की विधि संहिता | Best information

बेबिलोनिया की सभ्यता मेसोपोटामिया की सभ्यता के दूसरी चरण की सभ्यता है। बता दें कि सुमेरिया, बेबिलोनिया तथा असीरिया की सभ्यता को सम्मिलित रूप से मेसोपोटामिया की सभ्यता कहा जाता है।
Babylonian civilization in hindi

Sumeria ki sabhyata | प्राचीन सुमेरिया की सभ्यता | Sumerian civilization in hindi | मेसोपोटामिया की सभ्यता

सुमेरियन सभ्यता प्राचीन विश्व की महानतम सभ्यताओं में से एक थी। खनन द्वारा प्राप्त पुरातात्विक सामग्री व विभिन्न शिलालेखों के आधार पर सुमेरियन सभ्यता का जो जीवन्त रूप व विशेषताएँ उभरकर सामने आयीं
Sumeria ki sabhyata

Misra ki sabhyta | प्राचीन मिस्र की सभ्यता | ancient Egyptian civilization in hindi

संसार की प्राचीन सभ्यताएँ नदियों की घाटियों में जन्मीं और विकसित हुई। मिस्र की सभ्यता (misra ki sabhyta) का विकास भी वहाँ की प्रमुख नदी ‘नील’ की तलहटी में हुआ। इसी कारण इसे ‘नील-नदी घाटी की सभ्यता’ के नाम से जाना जाता है। मिस्र अफ्रीका महाद्वीप के उत्तरी पूर्वी भाग में नील नदी की तलहटी में स्थित है।

पृथ्वी पर जीव की उत्पत्ति व उसके क्रमिक विकास क्रम (भाग-2) | Prithvi par jeev ki utpatti aur unka vikas in Hindi | जीवों का इतिहास

प्रारम्भ में जीवन का प्रादुर्भाव धूप से प्रकाशित छिछले जल में लसलसी झिल्ली के समान लगनेवाले प्राणियों के रूप में हुआ, कालान्तर में परिस्थितियों में परिवर्तन होने के कारण उसकी शरीर-संरचना सरल से जटिलतर होती चली गई जिससे विभिन्न प्रकार के प्राणी अस्तित्व में आए। Prithvi par jeev ki utpatti,

पृथ्वी की उत्पत्ति कब हुई | पृथ्वी पर जीवोत्पत्ति कब हुई ? भाग -1 | ऐतिहासिक दृष्टिकोण से समझें | Origin of life on Earth in Hindi | (Gs Center)

हमारी पृथ्वी को सौर परिवार का अभिन्न अंग स्वीकार किया जाता है किन्तु इसकी उत्पत्ति विषयक धारणा भूगर्भशास्त्रियों एवं पुरातत्वविदों में रहस्यात्मक तथ्य बनी हुयी है। ऋग्वैदिक आख्यान के अनुसार इन्द्र ने पृथ्वी को ऊपर उठाया और उसे प्रपथत् अर्थात् विस्तृत किया। Origin of life on Earth in Hindi

x